आधिकारिक पवित्र लेख एवं मार्गदर्शन

बहाउल्लाह के पवित्र लेख

बहाउल्लाह की कृतियों में हजारों पत्र, पातियां और पुस्तकें शामिल हैं जिन्हे यदि संकलित किया जाए तो उनके 100 से भी अधिक खंड होंगे। इस संकलन में बहाउल्लाह की कुछ ऐसी मुख्य कृतियों को प्रस्तुत किया गया है जिनका हिंदी में अनुवाद किया जा चुका है।

  • बहाउल्लाह द्वारा 1856 में बगदाद में रचित कृतियां। ’सात घाटियां’ उन सूफ़ी रहस्यवादियों को संबोधित की गई थीं जिनके साथ वे सुलेमानिया में सम्पर्क में रहे थे।

    डाउनलोड करे

    PDF(517.21 KB) DOCX(66.88 KB)
  • नौ बहाई पवित्र दिवसों के लिए, या के सम्बंध में, बहाउल्लाह के लेखों से चुने हुए पैंतालिस अंश

    डाउनलोड करे

    PDF(2.02 MB) DOCX(272.94 KB)
  • एड्रियानोपल तथा अक्का में अपने निर्वासन के आरंभिक दिनों के बीच बहाउल्लाह द्वारा लिखित पत्रों को शामिल करने वाली छः कृतियां। ये पत्र उनके समय के सम्राटों और अग्रणी जनों को संबोधित किए गए थे जिनमें शामिल थे फ्रांस के नेपोलियन तृतीय, रूस के ज़ार अलैक्ज़ैंडर द्वितीय, इंगलैंड की महारानी विक्टोरिया, फारस के नसीरुद्दीन शाह और पोप पिउस नवम।

    डाउनलोड करे

    PDF(2.28 MB) DOCX(353.81 KB)
  • बहाउल्लाह के पवित्र लेखों से कुछ चुने हुए अंशों का संकलन जिसका संग्रह शोगी एफेन्दी द्वारा किया गया था। इसमें ’भेड़िये के पुत्र के नाम पाती’, ’किताब-ए-इकान’ और ’किताब-ए-अकदस’ के साथ-साथ उनकी कुछ अन्य पातियों के अनुच्छेद भी शामिल हैं।

    डाउनलोड करे

    PDF(659.84 KB)
  • 1857/58 में बगदाद में निर्वासन के दौरान बहाउल्लाह द्वारा अरबी एवं फारसी में प्रकटित छोटे-छोटे अनुच्छेदों वाली एक कृति जिसका अंग्रेजी में अनुवाद शोगी एफेन्दी ने किया।

    डाउनलोड करे

    PDF(288.64 KB) DOCX(54.28 KB)
  • बहाउल्लाह द्वारा 1861/62 में बगदाद में प्रकटित एक व्याख्या ग्रंथ जिसे उन्होंने बाब के एक मामा के प्रश्नों के उत्तर में लिखा था।

    डाउनलोड करे

    PDF(926.09 KB) DOCX(351.97 KB)
  • 1873 ईस्वी के आस-पास बहाउल्लाह द्वारा अरबी में लिखी गई उनके विधानों की पुस्तक। उस समय वे अक्का शहर में एक बंदी जीवन जी रहे थे। उसके पूरक के रूप में, बहाउल्लाह के कुछ बाद के लेख भी आते हैं जो उन्होंने अपने एक सचिव द्वारा पूछे गए प्रश्नों की एक श्रृंखला के प्रत्युत्तर के रूप में प्रकट किए थे।

    डाउनलोड करे

    PDF(1.43 MB) DOCX(436.90 KB)
  • बगदाद में अपने निर्वासन के दिनों में बहाउल्लाह द्वारा अरबी भाषा में प्रकट की गई एक विशेष पाती जो कि सैयद युसुफ-ए-सिदीही-इस्फहानी के प्रश्नों के उत्तर के रूप में थी।

    डाउनलोड करे

    PDF(394.53 KB) DOCX(91.91 KB)
  • बहाइयों पर अत्याचार करने वाले एक प्रमुख मुस्लिम धार्मिक नेता, शेख मुहम्मद तकी-ए-नजाफी, को संबोधित एक पाती। इसे करीब 1891 ईस्वी में ‘मैंशन आफ बहजी’में प्रकट किया गया था और शोगी एफेन्दी ने इसका अंग्रेजी में अनुवाद किया।

    डाउनलोड करे

    PDF(803.81 KB) DOCX(206.56 KB)